FD (Fix Deposit) क्या हैं? FD कराने का तरीका, फायदे, ब्याज दर

Fix Deposit (FD) in Hindi : हम सब ने FD के बारे में कभी न कभी जरुर सुना होगा की इतने पैसो की FD कर दो 3 या 5 साल में पैसे डबल हो जायेंगे। अब जब आपके पास पैसे हैं और आप उनका सही जगह निवेश करना चाहते हैं तो आपको फिक्स्ड डिपाजिट का ख्याल जरुर आया होगा। फिक्स डिपाजिट यानी एफडी क्या और कैसे होती हैं? FD पर हमें ब्याज (interest rate) कितना मिलता हैं? कितने समय बाद पैसे डबल हो जाते हैं और fd के और फायदे और समय पूरा होने से पहले एफ डी तुडवाने के नुक्सान क्या हैं? आज हम इन्ही सवालों के जवाब निचे विस्तार से आपको देंगे।

फिक्स्ड डिपाजिट क्या होता हैं : What is FD in Hindi?

FD (Fix Deposit) क्या हैं? फायदे, ब्याज दर

आम आदमी अपने तनख्वाह से कुछ न कुछ सेविंग करने के प्रयास करता ही है ताकि वो किसी जरुरत के समय काम आ सके। बैंक में सेविंग अकाउंट में हम पैसा जमा करते हैं उसपे ब्याज काफी कम मिलता है। ऐसे में बिना रिस्क के अच्छे ब्याज दर के साथ पैसे निवेश करने का सबसे आसान और फायदेमंद तरीका होता हैं Fixed Deposit. जिसमे हम पैसे एक निश्चित समय के लिए निवेश करते हैं जिस पर हम ब्याज मिलता हैं जिसकी दर बचत खाते जमा राशी पर मिलने वाले ब्याज से कही ज्यादा होती हैं।

आप FD किसी भी बैंक से करा सकते हैं। भारत में सभी बैंक आपको फिक्स्ड डिपाजिट कराने के सुविधा देते हैं। Fixed Deposit जैसा इसके नाम से ही प्रतीत होता हैं इसमें पैसा एक फिक्स समय के लिए डाला जाता हैं। उस फिक्स समय से पहले हमें पैसे निकलवाने होते। हालाँकि हम किसी इमरजेंसी होने पर FD तुडवा सकते हैं। एफ डी कितने समय की होती हैं ये हमारे उपर हैं। FD Short और Long Term दोनों के लिए की जा सकती हैं। fd कम से कम एक हफ्ते और ज्यादा से ज्यादा 10 साल के लिए की जा सकती हैं।

FD पर कितना ब्याज मिलता हैं : FD Interest Rate in Hindi

हर बैंक के FD Interest Rate अलग हो सकते हैं। जो 6% से लेकर 9% सालाना के बीच में होते हैं। जिस समय आप fd कवाते हैं उस समय जो ब्याज दर होगी वही आपको अंत तक मिलेगी। Fd पर आपको कितना interest rate मिलेगा ये इस बात पर भी निर्भर करेगा की आप कितने टाइम के लिए फड करवा रहे हैं।

जितने ज्यादा समय की fd होगी उतना ही अधिक ब्याज दर उस पर लगेगी। FD पर interest rate सेविंग अकाउंट में जमा राशी से कही ज्यादा मिलता हैं। निचे हमने कुछ पोपुलर बैंक के fd interest rate की लिस्ट बनायीं हैं जिसमे आप जान पायगे की किस बैंक से fd कराने पर आपको कितना ब्याज मिल सकता हैं।

  • स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (SBI) : 5.75% – 6.85%
  • पंजाब नेशनल बैंक (PNB) : 5.70% – 6.75%
  • आईसीआईसीआई बैंक (ICICI) : 4.00% – 7.50%
  • HDFC Bank : 3.50% – 7.40%
  • सिंडिकेट बैंक : 4.75% – 6.80%
  • सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया : 4.75% – 6.60%
  • बैंक ऑफ बरोदा : 4.50% – 6.85%
  • एक्सिस बैंक : 3.50% – 7.60%
  • कोटक महिंद्रा बैंक : 3.50% – 7.30%

किसी भी बैंक से FD करने पर कितना interest rate मिलेगा और fd पूरी होने पर टोटल कितना ब्याज मिलेगा या कितने समय में पैसे डबल हो जायेंगे? ये सब आसानी से पता लगाने के लिए FD Calculator पर जाए।

 

FD करने के फायदे : Fixed Deposit Benfits in Hindi

  1. Fd करवाने के सबसे बड़ा फायदा हैं आपको अपने पैसे पर अच्छा ब्याज मिलने के साथ में इस पर कोई रिस्क नहीं होता। आपके पैसे सेफ रहते हैं, मार्किट में चाहे कितने भी उतर चढाव आये आपको एक सुनिश्चित ब्याज मिलता रहेगा।
  2. आपके फिक्स्ड डिपाजिट पर मिलने वाले ब्याज को आप monthly, quarterly भी लेते रह सकते हैं।
  3. अगर आपको कोई इमरजेंसी आ जाए तो आप अपनी एफ डी पर लोन भी ले सकते हैं। आपको अपनी fd के टोटल अमाउंट का 90% तक लोन आसानी से मिल सकता हैं जिस पर interest rate भी ज्यादा नहीं होते।
  4. FD पर हमें टैक्स में भी छुट मिल जाती हैं। 80c tax deduction से हमें 150000 तक की FD पर कोई भी टैक्स नहीं लगता।
  5. वरिष्ठ नागरिकों (Senior Citizens) को fd करने पर अतिरिक्त interest rate मिल जाता हैं जो लगभग हर बैंक देता हैं। उदहारण के लिए SBI FD Plan में नार्मल सिटीजन को fd पर 5.25-6.25% ब्याज दर मिलती है वही सीनियर सिटीजन को उसके मुकाबले 6-6.75% interest rate मिलता है।
  6. बैंक से हमें Reinvest का विकल्प भी मिलता हैं जिसके अंतर्गत हम अपने FD राशी को फिर से दूसरी नयी fd में इन्वेस्ट कर सकते हैं।

FD (Fixed Deposit) Online या Offline कैसे करे

FD करवाने के 2 तरीके हैं पहला ऑनलाइन और दूसरा ऑफलाइन। अगर आपके Bank Account की Internet Banking Activate हैं तो आप बड़ी आसानी से घर बैठे FD Account open कर सकते हैं। आपको बस अपने इन्टरनेट बैंकिंग में log in करना हैं और वहा पर आपको FD कराने का विकल्प मिल जाता हैं। उस आप्शन में एक फॉर्म मिलेगा जिसे भर के आप FD करवा सकते हैं।

फिक्स्ड डिपाजिट कराने के दूसरा तरीका हैं बैंक जाकर fd कराना। वहा पर आपको fd कराने के लिए एक फॉर्म भरना होगा जिसमे आपको अपना Identity और Address Proof, पेन कार्ड के साथ में पासपोर्ट साइज़ फोटो की आवश्यकता होगी। फॉर्म और जरुरी डाक्यूमेंट्स के साथ में आपको उतनी धनराशी जितनी की आपको FD करानी हैं वो आपको वहा जमा करानी होगी। पैसे जमा कराने के बाद आपको एक FD receipt मिलेगी जो आपको संभाल के रखनी होगी।

 

टाइम से पहले FD तुडवाने के नुकसान

जब हम FD करवाते हैं तो उसमे हमारे पैसे एक Fix Time के लिए डिपाजिट रहते हैं जिस पर हमें interest मिलता हैं। पर कई बार किसी जरुरी काम या इमरजेंसी की वजह से हमें पैसे की जरुरत पद जाती हैं जिसके कारण fd Mature होने से पहले तुडवाने की नौबत आ जाती हैं। ऐसे में हमें कुछ नुकसान भी झेलने पड़ सकते हैं। टाइम पूरा होने से पीला FD तुडवाने पर बैंक से हमें पेनेल्टी मिलती हैं।

SBI बैंक से ली गयी 5 लाख से कम की FD तुडवाने पर 0.5% की पेनेल्टी लगती हैं। ऐसे ही अन्य बैंक से करवाई गयी fd तोड़ने से भी पेनल्टी लगती हैं। इसके अलावा fd पर जो interest हमें मिलना चाहिए वो भी कम मिलेगा।

fd करवाने से पहले अगर आपको लगता हैं की समय पूरा होने से पहले पैसे की जरुरत पड़ सकती हैं तो ऐसे में अपनी पूरी सेविंग की fd कराने की जगह, थोड़े- थोड़े पैसो की कई fd करवाए। उदहारण के लिए अगर आपके पास 5 लाख हैं जो आप fixed account में डालना चाहते हैं तो पुरे 5 लाख की fd के बजे 1-1 लाख की 5 fd करवाए। जिससे अगर पैसो के जरुरत हो तो कोई एक fd तुडवा ले, इससे नुकसान कम होगा।

Maturity से पहले एफडी तुडवाने के जगह एक दूसरा विकल्प fd पर लोन लेने का आता हैं। Fixed Deposit पर हमें बड़ी आसानी से बैंक से लोन मिल सकता हैं जिसकी ब्याज दर भी ज्यादा नहीं होती।

दोस्तों HindiUse की ये पोस्ट फिक्स्ड डिपाजिट क्या हैं? फायदे, ब्याज दर : FD in Hindi? आपको अगर फायदेमंद लगी हो तो इसे औरो के साथ शेयर जरुर करे। Fixed Account से जुड़े सवाल आप निचे कमेंट्स में पूछे।

Leave a Reply

error: Content is protected !!