बीडीओ कैसे बने? BDO Full Form, Exam, Job Salary, Qualification

BDO Officer क्या होता है? बीडीओ कैसे बने, योग्यता, एग्जाम, सैलरी और full form क्या होती है? BDO से जुड़े ऐसे सभी सवालो की जवाब आपको इस लेख में मिल जाएँगे। अगर आप भी उन लोगो में से है जो एक सरकारी नौकरी पाना चाहते है और बीडीओ ऑफिसर बनने का सपना देख रहे है तो इस लेख को आपको अंत तक जरुर पढना होगा।

दोस्तों आज के समय में एक अच्छी जॉब पाना कितना मुश्किल है ये सब तो आप जानते ही होंगे। सरकारी नौकरी में तो प्रतिस्पर्धा बहुत अधिक बढ़ गयी है। बीडीओ जैसे हाई लेवल की सरकारी जॉब पाने के लिए आपको एक सही दिशा में कड़ी मेहनत करनी। आपको बीडीओ बनने के लिए एंट्रेंस एग्जाम के साथ मे, मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू से गुजरना होगा जिसके बारे में हमने नीचे विस्तार से बताया है।

बीडीओ क्या होता है? Full Form of BDO in Hindi

BDO कैसे बने? Full Form, Salary, Exam, Eligibility
BDO कैसे बने

भारत में कुल 28 राज्य है। हर राज्य में जिले होते है और उन जिलो में तहसील होती है और उन तहसील में कई ब्लॉक होते है। एक ब्लाक के लिए सरकार द्वारा जो जनकल्याण योजनाएं चलाई जाती है, उन योजनाओं को लागू करना और ब्लाक से जुड़े विकास कार्यो की देखरेख करना एक बीडीओ ऑफिसर का काम होता है।

  • BDO Full Form : Block Development Officer
  • बीडीओ फुल फॉर्म इन हिंदी : खंड विकास अधिकारी (ब्लाक विकास अधिकारी)

दोस्तों सरकार देश के विकास के लिए कई तरह की सरकारी योजना लाती रहती है। इन योजनाओं का उद्देश्य देश का विकास और लोगो के जीवन स्तर को सुधारने के लिए उन्हें मदद पहुचाना होता है। एक बीडीओ ऑफिसर का काम ऐसे सभी स्कीम की जानकारी लोगो का पहुचना और उन्हें लागू करना होता है।

सरकार की तरफ से किये जाने विकास कार्यो को सही ढंग से करवाना भी खंड विकास अधिकारी का ही काम होता है। उदहारण के लिए किसी गाँव के सरपंच को की गली बनवानी है तो उसके लिए पैसे पास करने से लेकर उसके निर्माण तक की देखरेख में BDO Officer की अहम भूमिका होती है।

BDO Officer बनने के लिए योग्यता

बीडीओ अधिकारी बनने के लिए आपको PCS (लोक सेवा आयोग) द्वारा करवाई जाने परीक्षा देनी पड़ती है। इस एग्जाम में बैठने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए वो आप नीचे देख सकते है।

  • Education Qualification (शैक्षणिक योग्यता): अगर आप बीडीओ अधिकारी बनना चाहते है तो आपको पहले ग्रेजुएट होना होगा। जिसके लिए पहले आपको 12th की पढाई पूरी करनी होगी। 12th आप किसी भी विषय से कर सकते है। इसके आपको अपनी Graduation (बीए, बीएससी या बीकॉम) करनी होगी। ग्रेजुएशन करने के बाद आप लोक सेवा आयोग की परीक्षा को देने के योग्य होंगे।
  • Age Limit (आयु सीमा): खंड विकास अधिकारी बनने के लिए आपकी आयु 21 साल (Minimum age) से 40 साल (Maximum age) के बीच में होनी चाहिए। हालंकि OBC वर्ग के उम्मीदवारों के लिए आयु में 3 साल की छुट और SC/ST के लिए 5 साल की आयु में छूट दी जाती है।
  • किसी एक राज्य के लिए होने वाले PSC Exam को देने के लिए आपका उस राज्य का नागरिक होना अनिवार्य नहीं है। आप हरियाणा के स्थायी नागरिक है तो भी आप उत्तर प्रदेश की पीएससी परीक्षा दे सकते है।

बीडीओ कैसे बने: How to Become BDO in Hindi

उपर बताई गयी बीडीओ अधिकारी बनने की योग्यता के अनुसार अगर आप योग्य है तो आपको बीडीओ बनने के लिए लोक सेवा केंद्र द्वारा आयोजित परीक्षा के लिए आवेदन देना होगा। लोक सेवा केंद्र (PSC) हर राज्य के लिए अलग होता है। उत्तर प्रदेश के लिए ये बीडीओ बनने का एग्जाम Uttar Pradesh Public Service Commission (UPPSC) द्वारा, राजस्थान में Rajasthan Public Service Commission (RPSC) और बिहार में Bihar Public Service Commission (BPSC) द्वारा करवाया जाता है।

जिस भी राज्य के आप रहने वाले है पहले आपको उस राज्य के लोक सेवा केंद्र वेबसाइट पर जाकर परीक्षा के लिए आवेदन देना होगा। इस ये परीक्षा 3 चरणों में होती है। Preliminary Examination, Main Exam और Interview. जिनके बारे में आप नीचे विस्तार से देख सकते है।

1. Preliminary Examination

BDO बनने के लिए सबसे पहले आपको प्रारंभिक परीक्षा यानी Preliminary Examination देनी होगी। इस परीक्षा में 2 पेपर होते है। General Studies 1 और General Studies 2. पहला जनरल स्टडीज 200 नंबर का होता है जिसमे 150 Questions होते है। जनरल स्टडीज 2 भी 200 नंबर का होते है जिसमे 100 Questions होते है।

प्रारंभिक परीक्षा में सभी सवाल Objective Type होते है। इस एग्जाम में होने वाले दोनों पेपर को पास करने के बाद ही आप अगली परीक्षा देने के काबिल होंगे।

2. Main Exam ( मुख्य परीक्षा)

जो उम्मीदवार Preliminary Examination को पास आकर जाते है वही मुख्य परीक्षा में बैठ सकते है। इस Main Exam को Clear करने के लिए आपकी अच्छी तैयारी होनी जरुरी है। इस एग्जाम में कुल 8 पेपर होते है। सभी पपेर 300-300 नंबर के होते है, ये 8 पेपर है :

  1. General Hindi
  2. Essay
  3. General Studies 1
  4. General Studies 2
  5. General Studies 3
  6. General Studies 4
  7. Optional Subject – Paper 1
  8. Optional Subject – Paper 1

General Hindi पेपर में 50 नंबर के Questions होते है सभी सवाल हिंदी में पूछे जाते है। Essay writing में आपको 3 टॉपिक दिए जाएँगे जिसमे से आपको एक टॉपिक चुनकर उस पर Essay लिखना है जिसके लिए आपको 3 घंटे मिलेंगे और आपको 700 अंको में ये Essay लिखना होगा।

General Studies के 4 पेपर होंगे जो सभी 200-200 marks के होते है। General Studies 1, 2 और 3 में अर्थशास्त्र, विश्व भूगोल, भारतीय इतिहास और करंट अफेयर्स से जुड़े सवाल होते है। General Studies 4 पेपर में नैतिकता से जुड़े सवाल पूछे जाते है।

Optional Subject Paper 1, 2 में 29 विषयों पर आधारित सवाल होते है। 29 विषयों में से आपको कोई एक विषय चुनना होगा। सभी सवाल उसी विषय पर आधारित होंगे।

3. Interview

लोक सेवा केंद्र के पहली दोनों परीक्षाओं को क्लियर करने के बाद उम्मीदवारों को इंटरव्यू के लिए चुना जाता है। इंटरव्यू में कई तरह के सवाल पूछे जाते है ये सभी सवाल 200 नंबर के होते है। उम्मीदवार के जवाबों के आधार पर नंबर दिए जाते है। इंटरव्यू के बाद PSC द्वारा एक मेरिट लिस्ट बनाई जाती है। जिसके आधार पर खंड विकास अधिकारी की नियुक्ति की जाती है।

BDO Officer Salary कितनी है?

बीडीओ अधिकारी पर जितनी ज्यादा जिम्मेदारियां होती है उतनी ही पॉवर भी उन्हें सरकार से मिलती है। पॉवर के साथ में उन्हें एक अच्छी खासी तनख्वाह भी सरकार से मिलती है। BDO Officer की सैलरी हर राज्य के लिए अलग हो सकती है। राज्य का लोक सेवा केंद्र ही बीडीओ की सैलरी निर्धारित करता है। एक बीडीओ का मासिक वेतन 9000 रूपए से 35000 रूपए तक हो सकता है। नौकरी की अवधि के साथ में मासिक वेतन भी बढ़ता जाता है। एक अच्छी सैलरी के साथ में ब्लॉक विकास अधिकारी को कई अन्य सेवाएँ भी मिलती है।

ये भी पढ़े:

दोस्तों इस लेख में आपने जाना BDO कैसे बने: Full Form, Salary, Exam Qualifications क्या है? अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को फेसबुक, व्हाट्सप्प ट्विटर जैसी सोशल मीडिया साइट पर शेयर जरूर करे।

Leave a Reply

error: Content is protected !!